कोरोना

कोरोना - Roshni Gautam Shah, Bhuj

कुदरत जो रूठी है हमसे,
उसे अहिंसा से मनाना है |
आए हुए इस वैश्विक संकट में,
हमे अपना फर्ज निभाना है |
आएगा वो दिन सुनहरा,
फिर न होगा कोई पहरा,
हमें हिम्मत से काम लेना है |
मंदिरों में होंगे घंटनाद,
ईश्वर सुनेंगे हमारी अरदास,
हमे श्रद्धा को जीवन में लाना है |
भगवान् महावीर कह गए,
'' जीओ और जीने दो '',
सभी जीवों से मैत्रीभाव रखना है |
कुदरत से मिली सीख से,
हमें अपना कर्म संवारना है |
कोरोना को भगाना है |
कोरोना को हराना है |

KUTCH GURJARI

T : + 91 9322 880 555
E : kutchgurjari@gmail.com

Latest Website Updates